गम शायरी, Gam shayari

हलो दोस्तों (Hindishayariapp.com ) के ( गम शायरी, Gam shayari ) पेज पे आप का स्वागत है, दोस्तों उम्मीद करता हूँ की आप को पोस्ट अच्छे लगेंगे - धन्यवाद

gum-bhari-shayari

gum bhari shayari

लोग कहते है हम मुश्कुराते बहुत है
और हम थक गए दर्द छुपाते छुपाते
gam shayari, गम शायरी, gam ki shayari, gam bhari shayari

from गम शायरी, Gam shayari
aadat-dalo-mushkurane-ka

aadat dalo mushkurane ki

हजार गम मेरी फितरत नही बदल सकते
क्या करू मुझे आदत है मुश्कुराने की
gam shayari, गम शायरी, gam ki shayari, gam bhari shayari

from गम शायरी, Gam shayari
gam-shayari-apna-bana-kar

gam shayari apna bana kar

इस दुनिया में अजनबी रहना ठीक है
लोग बहुत तकलीफ देते है अक्सर अपना बना कर
gam shayari, गम शायरी, gam ki shayari, gam bhari shayari

from गम शायरी, Gam shayari
gam-shayari-apne-hi

gam shayari apne hi

लूट लेते है अपने ही वरना गैरो को क्या पता
इस दिल की दीवार कमज़ोर कहाँ है
gam shayari, गम शायरी, gam ki shayari, gam bhari shayari

from गम शायरी, Gam shayari
.
khushi-gam-shayari

khushi gam shayari

गम खुद ही ख़ुशी में बदल जाएगा
सिर्फ मुश्कुराने की आदत डालो
gam shayari, गम शायरी, gam ki shayari, gam bhari shayari

from गम शायरी, Gam shayari
gham-ka-maza

gham ka maza

किसी ने मुझसे पूछा कैसे हो
हमने हंस कर कहा ज़िन्दगी में गम है
गम में दर्द है और दर्द में मज़ा है
और मजे में हम है
गम का मज़ा,gam shayari, गम शायरी, gam ki shayari, gam bhari shayari

from गम शायरी, Gam shayari