ख़ामोशी शायरी, Khamoshi Shayari

हलो दोस्तों (Hindi shayari app.com ) के ( ख़ामोशी शायरी, Khamoshi Shayari ) पेज पे आप का स्वागत है, दोस्तों उम्मीद करता हूँ की आप को पोस्ट अच्छे लगेंगे - धन्यवाद

wo-kahti-thi-shayari-meri-khamoshi

wo kahti thi shayari

वो कहती थी तेरे जिश का साया हु मै
सायद इसलिए अंधेरो में साथ छोड़ दिए उसने

rone-ki-wajah-shayari-khamoshi

rone ki wajah shayari

हमारे रोने को वजह वो ही क्यों बनता है
जिसपे हम सबसे ज्यादा भरोषा करते है
ख़ामोशी शायरी, Khamoshi Shayari

halka-rishta-shayari

halka rishta shayari

सुना है मतलब बहुत वजनदार होता है
निकल जाने के बाद हर रिश्ते हल्का कर देता है

fark-bhut-hai-shayari-khamoshi-shayari

fark bhut hai shayari

फर्क बहुत है तेरी और मेरी तालीम में
तूने उस्तादों से सिखा और मैंने हालातो से
ख़ामोशी शायरी, Khamoshi Shayari

.
rashke-qamar-shayari-khamoshi-shayari

rashke qamar shayari

काश हमारा भी कोई रश्के कमर होता
हम भी नजर मिलते हमे भी मजा आता
ख़ामोशी शायरी