15 august shayari in hindi font

15-august-shayari-in-hindi-font

ज़माने भर में मिलते हे आशिक कई
मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता
नोटों में भी लिपट कर, सोने में सिमटकर मरे हे कई
मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता.

15 august shayari in hindi font

जशन आज़ादी का मुबारक हो देश वालो को,
फंदे से मोहब्बत थी हम वतन के मतवालो को

15 august shayari in hindi font

Fir ud gayi neend meri yeh soch kar,
Ke jo shaheedo ka baha wo khoon meri neend k liye tha

15 august shayari in hindi font

चले आओ मेरे परिंदों लौट कर अपने आसमान में,
देश की मिटटी से खेलो, दूर-दराज़ में क्या रक्खा है

15 august shayari in hindi font

वो तिरंगे वाली डीपी हो तो लगा लो जरा
सुना है कल देशभक्ति दिखाने वाली तारीख है
15 august shayari in hindi font

from 15 August Independence Day Shayari