aadat dalo mushkurane ki

aadat-dalo-mushkurane-ka

हजार गम मेरी फितरत नही बदल सकते
क्या करू मुझे आदत है मुश्कुराने की
gam shayari, गम शायरी, gam ki shayari, gam bhari shayari

from Gam Shayari - गम शायरी