aap ki kami shayari

aap-ki-kami-shayari

तेरी जगह आज भी कोई नही ले सकता
पता नही वजह तेरी खूबी है या मेरी कमी
प्रेम शायरी, Prem Shayari

from Prem Shayari