Gamo Ne Baant Liya

dard-shayari-baant-liya

गमो नै बाट लिया हे मूझे यू आपस मे
कि जेसै मै कोई लूटा हूआ खजाना था
वो आगै चलै ही नही कदम बिझा कर बैठ गऐ
तूम्हे तो साथ मेरा दूर तक निभाना था

Dard Bhari Shayari