Samjha Na Koi Dil Ki Baat

dard-shayari-dil-ki-baat

समझा ना कोई दिल की बात को
दर्द दुनिया ने बिना सोचे ही दे दिया
जो सह गए हर दर्द को हम चुपके से
तो हमको ही पत्थर दिल कह दिया

Dard Bhari Shayari