desh bhakti shayari image

desh-bhakti-shayari-image

Kuchh nasha Tirange ki aaan ka hain,
Kuch nasha Matrbhumi ki shaan ka hai
Hum lahrayenge har jagah ye Tiranga
Nasha ye Hindustan ki shaan ka hain

desh bhakti shayari image

Ye bat hawao ko bataye rakhna
Roshni hogi chirago ko jalaye rakna
Lahu dekr jiski hifazat hamne
aise Tirange ko sada dil me basaye rakhna.

desh bhakti shayari image

ज़माने भर में मिलते हे आशिक कई ,
मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता ,
नोटों में भी लिपट कर, सोने में सिमटकर मरे हे कई ,
मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता
desh bhakti shayari image

ज़माने भर में मिलते हे आशिक कई ,
मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता ,
नोटों में भी लिपट कर, सोने में सिमटकर मरे हे कई ,
मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता

from Desh Bhakti Shayari - देश भक्ति शायरी