dost ko dost ka

dosti-shayari-dost-ko-dost-ka

दोस्त को दोस्त का इशारा याद रहेता हे
हर दोस्त को अपना दोस्ताना याद रहेता हे
कुछ पल सच्चे दोस्त के साथ तो गुजारो
वो अफ़साना मौत तक याद रहेता हे
dosti shayari

from Dosti Shayari - दोस्ती शायरी