family shayari in hindi

kisi ka ishq kisi ka khayal the hum
gaye wo dino main bohut be kamal the hum
किसी का इश्क़ किसी का ख्याल थे हम
गए वो दिन मैं बहुत बे कमल थे हम

luta ke piyaar ki daulat kharide hai khoon ke aansoon
mili jo ishq main hum ko zara wo daulat to dekho
लुटा के प्यार की दौलत ख़रीदे है खून के आंसू
मिली जो इश्क़ में हम को ज़रा वो दौलत तो देखो

bus itna yaad hai humko ke ishq huwa hai
phir kiya huwa uske baad humko kuch pata hi nahi
बस इतना याद है हुमको के इश्क़ हुवा है
फिर किया हुवा उसके बाद हमको कुछ पता ही नहीं

anjaam sabka ek hi rah ka sahara hai ishq
kuch dekhna hai mujh main to tevar wafa dekh
अंजाम सबका एक ही राह का सहारा है इश्क़
कुछ देखना है मुझ में तो तेवर वफ़ा देख

from Family Shayari - परिवार शायरी