gham ka maza

gham-ka-maza

किसी ने मुझसे पूछा कैसे हो
हमने हंस कर कहा ज़िन्दगी में गम है
गम में दर्द है और दर्द में मज़ा है
और मजे में हम है
गम का मज़ा,gam shayari, गम शायरी, gam ki shayari, gam bhari shayari

from Gam Shayari - गम शायरी