kash too puche

kash-too-puche-shayari-sangrah

काश तूम पूछो क्या चाहिए
मे हाथ पकड कर कहु बस तेरा साथ चाहिए
shayari sangrah, शायरी संग्रह

from Shayari Sangrah