love shayari tere begair

love-shayari-tere-begair

आज कुछ कमी है तेरे बगैर
ना रंग है ना रोशनी है तेरे बगैर
वक्त अपनी रफ्तार से चल रहा है
बस धड़कन सी थमी है तेरे बगैर
aaj kuchh kamee hai tere bagair
na rang hai na roshani hai tere bagair
vakt apanee raphtaar se chal raha hai
bas dhadakan see thami hai tere bagair

from Love Shayari In Hindi