matlab ke liae

shayari-ki-diary-matlab-ke-liae

कुछ मतलब के लिए ढूँढते हैं मुझको,
बिन मतलब जो आए तो क्या बात है,
कत्ल कर के तो सब ले जाएँगे दिल मेरा,
कोई बातों से ले जाए तो क्या बात है.”

kuchh matalab ke lie dhoondhate hain mujhako,
bin matalab jo aae to kya baat hai,
katl kar ke to sab le jaenge dil mera,
koy baaton se le jae to kya baat hai.”
शायरी की डायरी, शायरी की डायरी फोटो,
shayari ki dayari, शायरी की दुनिया

from Shayari Ki Dayari