Hindi Love Shayari

love-shayari-mera-chain-sakoon

इस क़दर क़ीमती न था मेरा चैन ओ सुकून ,
फिर भी लूट ले गया वो किसी ख़ज़ाने की तरह
es qadar qeemati na tha mera chain o sukoon ,
phir bhee loot le gaya vo kisi khazaane ki tarah

badalon ka haal bhi mere jaisa hai
batate kuch bhi nahi bus rote jate hai
बादलों का हाल भी मेरे जैसा है
बताते कुछ भी नहीं बस रोते जाते है

muddaton baad bhi nahi milte hum jaise nayab log
tere haath kiya lag gaye tumne to hamhe aam samjh liya
मुद्दतों बाद भी नहीं मिलते हम जैसे नायाब लोग
तेरे हाथ किया लग गए तुमने तो हम्हे आम समझ लिया

haan yaad aaya iske aakhri alfaz ye the
agar ji sako to ji lena agar mar jao to accha hai
हाँ याद आया इसके आखरी अलफ़ाज़ ये थे
अगर जी सको तो जी लेना अगर मर जाओ तो अच्छा है

mujhe bi yaad rakhna jab likho tarikh wafa ki
maine bhi lutaya hai mohabbat main sakoon apna
मुझे भी याद रखना जब लिखो तारीख वफ़ा की
मैंने भी लुटाया है मोहब्बत मैं सकूँ अपना

from Love Shayari In Hindi