nashili aankhen shayari in hindi

nashili aankhen shayari in hindi

main bad duaa to nahi de raha ho usko magar
duaa yahi hai ki usko mere jaise koi aur na mile
मैं बद दुआ तो नहीं दे रहा हो उसको मगर
दुआ यही है की उसको मेरे जैसे कोई और न मिले

meri yadon ka silsila tumse hi hai
tum ye na kaha karo ki duaa main yaad rakhna
मेरी यादों का सिलसिला तुमसे ही है
तुम ये न कहा करो की दुआ में याद रखना

lamhe lamhe main basi hai teri yaadon ki mahek
ye aur baat hai tum najro se door baithe ho
लम्हे लम्हे में बसी है तेरी यादों की महक
ये और बात है तुम नजरो से दूर बैठे हो

jo khushi sab ko deta hai aakhri main wahi rota hai
jo mil na sake umar bhar piyar ussi se hota hai
जो ख़ुशी सब को देता है आखरी मैं वही रोता है
जो मिल न सके उम्र भर पियर उसी से होता है

from Shayari On Eyes