naye saal par shayari

naye saal par shayari

"मंजिले आसान सारे मुस्किले वे नूर हो, दिल की जो हो तम्मना वो हमेशा दूर हो, लब पे लब की बात हो, खुशियों में सिमटी जिन्दगी, गम भरी पारछाइया आँचल से लाखो दूर हो "

"सबके दिलों में हो सबके लिए प्यार; आने वाला हर दिन लाए खुशियों का त्यौहार, इस उम्मीद के साथ आओ भूलके सारे गम, न्यू इयर 2015 को हम सब करें वेलकम"

"पुराना साल सबसे हो रहा है दूर, क्या करें यही है कुदरत का दस्तूर, पुरानी यादें सोच कर उदास ना हो तुम, नया साल आया है चलो, धूम मचा ले धूम मचा ले धूम"

"फूल खिलेंगे गुलशन में तब खूबसूरती नज़र आएगी, बीते साल की खट्टी मीठी यादे बस संग रह जाएँगी, आओ यारो जश्न मनाते है नए साल का साथ मिलकर, नए साल की पहली सुबह ही खुशियां जो अनगिनत लाएगी"

"बीते साल को विदा कुछ इस कदर करते हैं जो नहीं किया अब तक वो भी कर गुज़रते हैं नया साल आने की खुशियाँ तो सब मनाते हैं चलो हम इस बार बीते साल की यादों का जश्न मनाते हैं"

from Naye Saal Ki Shayari