nazro se door

nazro-se-door-mohabbat-shayari

नज़रों से दूर सही दिल के बहुत पास है तू
बिखरी हुई इस ज़िन्दगी में मेरे जीने की आस है तू
मोहब्बत शायरी, mohabbat shayari, mohabbat bhari shayari

Mohabbat Shayari In Hindi