New Year ki Badhai Shayari

new-year-ki-badhai-shayari

लो जी आर्ज़ किया है
दुनिया ने किये बहुत जुल्म ओ सितम
वह वह
दुनिया ने किये बहुत जुल्म ओ सितम
रब की कसम हो गया ये साल भी ख़तम

NA TALWAR KI DHAAR SE NA GULIYON KI BAUCHAR SE
NEY SAAL KI SUBHKAAMNAYE KARTA HU VISH AAP KO PIYAAR SE
न तलवार की धार से ना गलियों की बौछार से
नये साल की सुभकामनायें करता हु विश आपको प्यार से

AKSAR WO MUJHSE PUCHTA HAI KIYA ZINDAGI HAI AUR KIYA MAUT
MEIN KHAAMOSH REH KAR DIL HI DIL MEIN KEHTI HU
TUJHE PAA LIYA TOH ZINDAGI HAI AUR KHO DIYA TO MAUT HAI
अक्सर वो मुझसे पूछता है किया ज़िन्दगी है और किया मौत
में खामोश रह कर दिल ही दिल में कहती हु
तुझे पा लिया तोह ज़िन्दगी है और खो दिया तो मौत है
New Year ki Badhai Shayari

from Happy New Year 2020 Shayari