sad shayari kis darbar ka chirag

sad-shayari-kis-darbar-ka-chirag

ना जाने किस दरबार का चिराग़ हूँ
मैं जिसका दिल करता है जला के छोड़ देता है
sad shayari in hindi,sad shayari,
सैड शायरी, hindi shayari sad

Sad Shayari In Hindi