sma ke chale gae

meri-diary-sad-shayari-sma-ke-chale-gae

रग-रग में इस तरह से समा कर चले गये,
जैसे मुझ ही को मुझसे चुराकर चले गये,
आये थे मेरे दिल की प्यास बुझाने के वास्ते,
इक आग सी वो और लगा कर चले गये
meri diary sad shayari, meri diary shayari, meri dairy, meri diary

from Meri Diary Sad Shayari