waqt shayari ishq ki chot

waqt-shayari-ishq-ki-chot

इश्क की चोट का कुछ दिल पे असर हो तो सही,,
दर्द कम हो कि ज्यादा हो, मगर हो तो सही,

Waqt Shayari - वक्त पर शायरी